हिन्दी ब्लॉग क्यों?

बहुत देर तक सोचता रहा, क्या लिखूं! कुछ विशेष नहीं सूझ रहा था| प्रथम सोचा कि किसी वाहियात चीज कि प्रसंशा कर दूँ; या कुटिल राजनीति पर दो चार सुना दूँ| लेकिन फिर सोचा कि अंग्रेजी वेब और अंग्रेजी होती मेरी पीढ़ी के बीच यही जस्टिफाई कर दिया जाये कि मैंने हिन्दी ब्लॉग लिखना क्यों प्रारंभ किया?

सर्वप्रथम, बता दूँ कि मैं “हिन्दी” हूँ| सिर्फ़ भाषा से नहीं, तन-मन और धन से भी| विचार भी हिन्दी हैं, जिन्हे अकसर लोग पिछड़ा समझते हैं| ख़ासकर, तथाकथित विकसित “अंग्रेजी भारतीय समाज”| यह स्पस्ट कर दूँ कि ये अंग्रजी भारतीय समाज अंग्रेज नहीं है, ये वो हैं जिनकी भाषा अंग्रेजी या हिंग्लिश हो चुकी है और इन्हें हिन्दी बोलने वाले तुक्ष नजर आते हैं| आप महानुभाव खुद को विकसित और भारत को विकसित बनाने वाला मानते हैं| हालाँकि यह भी विडम्बना ही है कि आपकी कल्पना के इस भारत में वे १०० करोड़ भारतीय नहीं हैं जो गरीब हैं| मेरा यह ब्लॉग उन्ही १०० करोड़ भारतियों के लिए है| सरकार भले दिन के ३०-३५ रुपये खर्च करने वालों को गरीब न माने पर सच्चाई यही है कि यही वो तबका है जो सदैव संघर्ष करता है| जीता है, मरता है| अपने सहभागिता से किसी देश को बनाता और बिगड़ता है| आप यह भी पूछ सकते हैं कि, अगर मैं यह ब्लॉग अंग्रेजी में लिखता तो अधिक लोग पढ़ते| अंग्रेजी अब “संपर्क कि भाषा” बन चुकी है| तो मेरा जवाब है, मुझे लगता है कि अंग्रेजी में यह ब्लॉग लिख कर मैं खुद को, अपने लेखकी से, संतुष्ट नहीं कर पाता और मुझे चेतन भगत नहीं बनना|

दूसरा कि, हमारा यह इन्टरनेट अंग्रेजी है| आज अगर देखा जाये तो दूसरी भाषाएँ, अंग्रेजी के अलावा, जैसे रुसी, चीनी, जापानी अपने अपने क्षेत्र में अधिक लोकप्रिय हैं; ख़ासकर, इन्टरनेट| शायद हिन्दीभाषी लोग अपनी भाषा से उतना प्रेम नहीं करते| या यह भी हो सकता है कि हिन्दी इन्टरनेट के लिए उतने साधन और संसाधन ही उपलब्ध न हों| जो भी हो, मेरे जैसे हिन्दीभाषियों, जो सुचना प्रौधोगिकी से जुड़े हैं, कि यह जिम्मेदारी भी बनती है कि मैं अपनी भाषा के संवृद्धि में कुछ योगदान करूँ| करोड़ो लोग हिन्दी बोलते हैं, लिखते हैं; क्यों अपनी भाषा में न लिख कर दूसरी भाषा का प्रयोग करूँ| और अंग्रेजी में तो सब लिखते हैं| यह स्पष्ट कर दूँ कि मुझे अंग्रेजी से परहेज नहीं है बस इस ब्लॉग के लिए अंग्रेजी मुझे उपयुक्त लगा|

आशा है कि आपको आने वाले समय में यह ब्लॉग पसंद आएगा| अपने सुझाव आप नीचे कमेंट बॉक्स में लिख सकते हैं| आपके सुझावों और शिकायतों का इंतजार रहेगा|

आनन्द कुमार
[email protected]
ट्विटर: @iAnandK

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.